भारत के 25 श्रेष्ठ अंग्रेजी कवियों में चुने गए आगरा के राजीव खंडेलवाल
Vernacular

भारत के 25 श्रेष्ठ अंग्रेजी कवियों में चुने गए आगरा के राजीव खंडेलवाल

TNA Bureau

TNA Bureau

आगरा || एक ओर जहाँ विश्व कोरोना जैसी आपदा से जूझ रहा है, वहीं दूसरी ओर विश्व के कई देश साम्राज्य विस्तार और अंधी दौड़ में युद्ध के मुहाने पर खड़े हैं। ऐसे में साहित्य जगत की जिम्मेदारी और बढ़ जाती है। सांप्रदायिक सद्भाव और विश्व शांति के प्रसार में अंग्रेजी भाषा के भारतीय कवि भी अपनी भूमिका निभाते रहे हैं, लेकिन इस ओर पहली बार इंटरनेशनल सूफी सेंटर बेंगलुरु और सूफी संस्कृति, दर्शन और साहित्य के जनरल सूफी वर्ल्ड ने संयुक्त रुप से ध्यान दिया है।

इन्होंने भारत से ऐसे 25 श्रेष्ठ अंग्रेजी कवियों का चयन किया है जो कविता द्वारा सांप्रदायिक सद्भाव और विश्व शांति को बल प्रदान करने और भारतीय अंग्रेजी कविता को प्रोत्साहित करने में लगे हैं। इनमें ताजनगरी के ख्याति प्राप्त वरिष्ठ अंग्रेजी कवि राजीव खंडेलवाल को भी चुना गया है।

ट्रस्टी एसएल पीरन द्वारा राजीव खंडेलवाल को इस आशय का एक प्रमाण पत्र मेल द्वारा भेजा गया है। शीघ्र ही ऑथर्स प्रेस, नई दिल्ली के साथ मिलकर इन 25 अंग्रेजी कवियों की 25-25 कविताओं का एक साझा काव्य संग्रह प्रकाशित किया जाएगा ताकि विश्व शांति का संदेश जन- जन तक पहुंच सके।

गौरतलब है कि राजीव खंडेलवाल की अब तक पांच काव्य कृतियां प्रकाशित हो चुकी हैं। उनको पीसीके प्रेम द्वारा संपादित समकालीन इंडियन इंग्लिश पोएट्री के इतिहास में भी दर्ज किया गया है। यही नहीं, लेबनान की फाउंडेशन फॉर ग्रेटिस कल्चर द्वारा वर्ष 2018 में वे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी सम्मानित हो चुके हैं।

इनके रचनात्मक अवदान पर प्रोफेसर बीवीवी राम-राव, स्वर्गीय डॉक्टर सोम पी रंचन और डॉक्टर भूपेंद्र परिहार द्वारा शोध परक समीक्षात्मक पुस्तकें भी लिखी गई हैं। इनकी चुनिंदा प्रेम कविताओं का हिंदी अनुवाद भी प्रकाशन की प्रक्रिया में है।

The News Agency
www.thenewsagency.in