यूपी में पूरब से पश्चिम, उत्तर से दक्षिण तक हत्यारों का राज: वैभव माहेश्वरी

यूपी में पूरब से पश्चिम, उत्तर से दक्षिण तक हत्यारों का राज: वैभव माहेश्वरी

लखनऊ, अप्रैल ३ (TNA) पूरा प्रदेश तो छोड़िए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गृह जनपद गोरखपुर में ही अपराधी तांडव मचाए हुए हैं और योगी बंगाल, असम और तमिलनाडु आदि चुनावी राज्यों में घूमकर भाजपा और अपनी सरकार की फर्जी वाहवाही बतिया रहे है ।

प्रदेश में आये दिन छोटी छोटी बच्चियों के साथ बलात्कार हो रहे है, दिन दहाड़े बेटियां उठा ली जाती है, बच्चे ऑक्सीजन के बिना अस्पतालों में मर जा रहे है, बिजली कि दरें सबसे ज्यादा हैं, स्मार्ट मीटर के नाम पर लोगो से ठगी की जा रही है, योगी जी रैलियों में इन घटनाओं का जिक्र क्यों नहीं कर रहे हैं ?

गोरखपुर में जंगलराज का आलम यह है कि पिछले 24 घंटे में ही वहां खुद भाजपा नेता और पूर्व प्रधान सहित चार लोगों की नृशंस हत्या हो गई। गोरखपुर में इसके 2 दिन पहले ही दोहरा हत्याकांड हुआ। इसके कुछ दिन पहले ही जिला पंचायत सदस्य पद के प्रत्याशी की भी बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी।

इन आपराधिक घटनाओं का जिक्र करते हुए आदमी पार्टी के प्रदेश के मुख्य प्रवक्ता और लखनऊ के जिला अध्यक्ष वैभव माहेश्वरी ने कहा कि यूपी ही नहीं योगी के गृह जनपद गोरखपुर में भी जंगलराज कायम है। वैभव ने कहा कि योगी आदित्यनाथ पूरी तरह फेल हो चुके हैं। उनकी पुलिस का इकबाल खत्म हो गया है और अपराधियों के हौसले चरम पर हैं।

"योगी जी जाने दीजिए आप से न हो पाएगा" मुख्यमंत्री योगी यूपी संभाल नहीं पा रहे हैं। पंचायत चुनाव शुरू भी नहीं हुए कि खून खराबा चालू हो गया, वह भी व्यापक पैमाने पर। महज तीन महीने में गोरखपुर में 10 ऐसी चर्चित हत्याएं हुईं जिनमें योगी की तथाकथित पुलिस पानी पर लाठी पीट रही है। वैभव माहेश्वरी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के इस्तीफे की मांग करते हुए कहा, "योगी जी जाने दीजिए आप से न हो पाएगा।"

आप नेता वैभव माहेश्वरी ने गोरखपुर में बीते 24 घंटों घंटों के बीच हुई लोमहर्षक हत्याओं का जिक्र करते हुए कहा कि जहां एक तरफ गोरखपुर के उत्तरी छोर पर गुलरिहा थानाक्षेत्र में भाजपा के ही नेता और पूर्व प्रधान बृजेश सिंह की गोली मारकर हत्या हो गई, वहीं जिले के दक्षिणांचल में 22 साल के नवयुवक को पेट्रोल डालकर फूंक डाला गया।

योगी के कथित ड्रीम प्रोजेक्ट रामगढ़ताल में युवा बस चालक 36 वर्षीय बबलू पांडेय की हत्या कर लाश फेंक दी गई। जिले के पूर्वी इलाके चौरीचौरा में भी परोरा नाम के युवक की गला रेतकर हत्या कर दी गई। इस तरह गोरखपुर जिले के ही पूरब से लेकर पश्चिम और उत्तर से लेकर दक्षिण तक आतंक का बोलबाला है।

वैभव माहेश्वरी ने कहा कि गोरखपुर जिले में ही दो दिन पहले गगहा थाना क्षेत्र में दोहरा हत्याकांड हो गया। यहाँ युवा व्यापारी शंभुशरण मौर्य और उनके कर्मचारी संजय पांडेय की बेखौफ बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी। इसी क्षेत्र में शंभुशरण मौर्य के मित्र रितेश मौर्य की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इन घटनाओं का पुलिस आज तक खुलासा नहीं कर सकी। रितेश मौर्य जिला पंचायत सदस्य पद के प्रत्याशी थे। जिन बृजेश सिंह की बीती रात हत्या हुई वह भी पूर्व प्रधान थे और आज ही फिर प्रधान पद के लिए पर्चा भरने वाले थे।

No stories found.
The News Agency
www.thenewsagency.in