राज्यपाल ने चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय का नैक मूल्यांकन हेतु प्रस्तुतीकरण देखा

राज्यपाल ने चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय का नैक मूल्यांकन हेतु प्रस्तुतीकरण देखा

लखनऊ, 8 अक्टूबर (TNA) उत्तर प्रदेश की राज्यपाल एवं कुलाधिपति आनंदीबेन पटेल ने आज राजभवन में चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय, मेरठ की नैक मूल्यांकन की तैयारियों के प्रस्तुतीकरण को देखा। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय अनुसंधान, परामर्श, छात्र सुविधाओं, संस्थान के संगठन एवं प्रबंधन, छात्र एवं संस्थान के मध्य अनुशासन, मूल्यांकन हेतु संस्थान के संसाधन तथा शिक्षा प्रदान करने हेतु आवश्यक उपकरण आदि सभी विषयों पर विश्वविद्यालय पूर्ण गुणवत्ता एवं नैक के मानकों के अनुरूप कार्य करें, ताकि मूल्यांकन श्रेणी वर्तमान “बी” ग्रेड से “ए” प्लस हो सके।

कुलाधिपति ने कहा कि विश्वविद्यालय का नैक प्रस्तुतीकरण संतोषजनक है फिर भी आपका ई-गवर्नेंस, सी.बी.सी.एस सिस्टम (च्वाइस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम), फीडबैक सिस्टम, पठन-पाठन हेतु पाठ्यक्रम निर्धारण आदि में विशेष सुधार की जरूरत है और यह कार्य टीम भावना के साथ मिल-जुल कर किया जा सकता है।

उन्होंने सुझाव दिया कि विश्वविद्यालय पूर्व छात्र सम्मेलन, सामाजिक गतिविधियों, टोटल बेस्ट मैनेजमेंट, विद्यार्थियों में लीडरशिप जैसी गतिविधियों को बढ़ावा दें, इसके लिये रिसोर्स बढ़ाने के साथ-साथ अपने क्रियाकलापों का स्व-मूलयांकन किया जाना अत्यंत जरूरी है।

उन्होंने सुझाव दिया कि विगत वर्षों में परीक्षा में उपभोग हुई परीक्षा पुस्तिकाओं का आकलन करने के बाद वर्तमान आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए ही उनका मुद्रण कराया जाए ताकि किसी भी प्रकार के अपव्यय को रोका जा सके। उन्होंने राजभवन द्वारा तैयार किये गये पोर्टल पर सूचनाओं को अपलोड करने के भी निर्देश दिये।

Related Stories

No stories found.
The News Agency
www.thenewsagency.in