आम आदमी पार्टी ने लगाया आरोप, सत्ता से संरक्षण मिलने के चलते ही प्रदेश में आई अपराधों की बाढ़

आम आदमी पार्टी ने लगाया आरोप, सत्ता से संरक्षण मिलने के चलते ही प्रदेश में आई अपराधों की बाढ़

लखनऊ ।। आम आदमी पार्टी ने सोमवार को प्रदेश में आयी अपराधों की "बाढ़" पर चिंता जताते हुए योगी सरकार को आगाह किया कि प्रदेश में बढ़ती आपराधिक घटनाओं पर रोक लगाने के लिये सरकार को ठोस करवाई करने की जरूरत है।

पार्टी में मुख्य प्रवक्ता वैभव माहेश्वरी ने एक बयान जारी कर सोमवार को कहा कि बच्चियों के साथ आए दिन हैवानियत की जा रही है जघन्य हत्याओं की खबर आम बात है। और ऐसा सिर्फ इसलिए है कि अपराधियों में सरकार और पुलिस का कोई खौफ नहीं रहा| क्योंकि कई मौक़ों पर प्रदेश सरकार खुद अपराधियों के साथ खड़ी दिखती है।

उन्होंने आगे कहा की आम आदमी पार्टी का मानना है कि प्रदेश की सत्ता योगी आदित्यनाथ से सूबे की कानून व्यवस्था संभल नहीं रही है। पार्टी मांग करती है कि मुख्यमंत्री को तुरंत अपने पद से इस्तीफा देना चाहिए और प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लगाया जाना चाहिए। आम आदमी पार्टी ने आपराधिक घटनाओं की निंदा करते हुए पीड़ित परिवारों को न्याय दिलाने के लिए तथा प्रदेश में जनता का राज लाने के लिए संघर्ष जारी रखेगी।

उन्होंने कहा की आम आदमी पार्टी प्रदेश की 24 करोड़ जनता को न्याय दिलाने के लिए प्रतिबद्ध और प्रयासरत दोनों है।

माहेश्वरी ने आगे कहा कि 'बेटी बचाओ' और 'बहुत हुआ महिलाओं पर अत्याचार' का नारा देकर सत्ता में आयी भारतीय जनता पार्टी प्रदेश से शायद सबसे ज़्यादा निराश प्रदेश की महिलाएँ बेतिया ही है| न योगी जी के राज में उनके साथ हो रही बर्बरता रुक रही है और न्याय मिलने की कोई उम्मीद दिखती है| जिस तरह हाथरस और बाराबंकी काण्ड में प्रशासन का जो क्रूर चेहरा सामने आया है वो यह बताने के लिए काफी है की योगी सरकार ने बेटी बहनों के साथ कितना बड़ा विश्वासघात किया है|

पार्टी प्रवक्ता ने कहा कि इधर योगी आदित्यनाथ मिशन महिला शक्ति की शुरुआत करते हैं, उधर लखीमपुर खीरी में इन्हीं की पार्टी की महिला सांसद के स्वागत समारोह में महिला पुलिसकर्मी के साथ छेड़छाड़ और अभद्रता की जाती है।हद तो तब हो जाती है जब योगी जी के पार्टी का विधायक थाने में हंगामा कर आरोपी भाजपा कार्यकर्ता को छुड़ा ले जाता है।

उन्होंने बोला की सत्ता के मद में चूर जन प्रतिनिधि जनता को ही आजकल कुछ नहीं समझ रहे है बलिया में खुलेआम प्रशासन की मौजूदगी में हत्या कर दी जाती है और विधायक एक आरोपी के लिए आँसू बहाते दिखाई देते है| कौशांबी में बीजेपी का विधायक दबंगई से जमीन पर कब्जा कर रहा है। जमीन के मालिक को धमका रहा है कि जमीन हमारे नाम नहीं लिखी तो तुम्हारे लड़कों को जान से मार देंगे। धमका रहा है की प्रदेश में हमारी सरकार है, तुम हमारा कुछ नहीं कर पाओगे।

उन्होंने आगे कहा कि नोएडा में एक मजदूर का बेटा 11 अक्टूबर को लापता हो जाता है। वहां की पुलिस घटना के 5 दिन बाद अपहरण की रिपोर्ट दर्ज करती है लेकिन फिर भी करती कुछ नहीं। घटना के एक सप्ताह बाद लापता बालक का शव घर से थोड़ी दूर स्थित एक निर्माणाधीन बिल्डिंग में सड़े गले हाल में मिलता है।

Related Stories

The News Agency
www.thenewsagency.in