नवजोत सिद्धू ने कथित रूप से 9 महीने से नहीं भरा बिजली बिल, 8 लाख से ज्यादा बकाया!

नवजोत सिद्धू ने कथित रूप से 9 महीने से नहीं भरा बिजली बिल, 8 लाख से ज्यादा बकाया!

पंजाब में बिजली संकट (Electricity Crisis) को लेकर सियासी घमासान जारी है| बिजली संकट को लेकर सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह पर निशाना साधने वाले कांग्रेस नेता नवजोत सिद्धू अब खुद इस मुद्दे पर घिर गए हैं| सिद्धू ने पिछले कई महीने से बिजली बिल नहीं भरा है. सिद्धू पर प्रदेश की बिजली कंपनी का कथित रूप से आठ लाख रुपये से अधिक का बकाया है।

दरअसल बिजली के मुद्दे को लेकर सरकार को घेरने वाले नवजोत सिंह सिद्धू के घर का भारी भरकम बिल बकाया है। जानकारी के मुताबिक उन्होंने पिछले 9 महीने से बिल नहीं भरा है और उन पर बिल के साढ़े आठ लाख रुपये से ज्यादा का बकाया है।

एक के बाद एक लगातार ट्वीट कर सिद्धू ने ही अपनी ही पार्टी की सत्तारूढ़ सरकार को सुझाव दिया। उन्होंने कैप्टन सरकार की तरफ से सरकारी दफ्तरों में बिजली को लेकर जारी निर्देश पर कहा कि सही दिशा में काम करने से ना तो पंजाब में बिजली कटौती की जरूरत पड़ेगी और ना ही ऑफिस में टाइमिंग या एसी चलाने को मैनेज करने की जरूरत पड़ेगी।

सिद्धू ने बिजली कटौती, लागत, बिजली खरीद समझौतों की सच्चाई, पंजाब के लोगों को फ्री और 24 घंटे बिजली दिए जाने को लेकर अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि पंजाब को औसतन 4.54 रुपये प्रति यूनिट की दर से बिजली खरीदनी पड़ती है। वहीं राष्ट्रीय औसत 3.85 रुपये है। चंडीगढ़ में 3.44 रुपये प्रति यूनिट पर बिजली की खरीद होती है। 3 निजी प्लांट पर निर्भरता की वजह से प्रति यूनिट 5 से 8 रुपये महंगी बिजली खरीदनी पड़ती है।

No stories found.
The News Agency
www.thenewsagency.in