सोमनाथ भारती पर फेंकी गई स्याही लिखेगी योगी सरकार के पतन की इबारत : सभाजीत सिंह

सोमनाथ भारती पर फेंकी गई स्याही लिखेगी योगी सरकार के पतन की इबारत : सभाजीत सिंह

लखनऊ, 11 जनवरी (TNA) आम आदमी पार्टी के विधानसभा चुनाव लड़ने की घोषणा से परेशान योगी सरकार लगातार पार्टी कार्यकर्ताओं और नेताओं के खिलाफ दमनात्मक कार्रवाई कर रही है। पंचायत चुनाव की तैयारियों के क्रम में रायबरेली पहुंचे दिल्ली सरकार के पूर्व कानून मंत्री एवं मौजूदा विधायक सोमनाथ भारती पर हुआ हमला और उनकी गिरफ्तारी की घटना इसका ताजा उदाहरण है। पार्टी इस कायराना हरकत की जोरदार भर्त्सना करती है।

ये बातें आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह प्रदेश कार्यालय पर सोमवार को सदस्यता ग्रहण कार्यक्रम के दौरान आयोजित संयुक्त पत्रकार वार्ता में कहीं। उन्होंने कहा कि योगी सरकार के गुंडों की ऐसी हरकतों से पार्टी कार्यकर्ताओं का मनोबल टूटने वाला नहीं है। सोमनाथ भारती पर फेंकी गई स्याही 2022 में योगी सरकार के पतन की इबारत लिखने का काम करेगी।

पंचायत चुनाव की जानकारी साझा करते हुए प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि अब तक जिला पंचायत चुनाव लड़ने के लिए हजारों आवेदन पार्टी को मिले हैं। जल्द ही पार्टी पूरे प्रदेश में हर वार्ड में एक वार्ड इंचार्ज की नियुक्ति करेगी।

उन्होंने आगे कहा कि सोमनाथ भारती पर किया गया मुकदमा बेहद हास्यास्पद है जीवन मृत्यु से उनका आशय था राजनीतिक खत्म हो जाना लेकिन उसका गलत मतलब निकाल कर उसके आधार पर मुकदमा दायर कर उत्तर प्रदेश पुलिस ने अपनी अपरिपक्वता दर्शायी है।

प्रदेश के मुख्य प्रवक्ता वैभव माहेश्वरी ने सोमनाथ भारती पर स्याही फेंकने की घटना की निंदा करते हुए कहा कि पुलिस की मौजूदगी में आपराधिक छवि का व्यक्ति एक जनप्रतिनिधि पर हमला करके सुरक्षित निकल जाता है और योगी की पुलिस उसके खिलाफ कार्रवाई करने की जगह दिल्ली सरकार के विधायक को ले जाकर थाने में बंद कर देती है। सरकार ने अपने गुंडों को स्याही का सही इस्तेमाल करना नहीं सिखाया, इस स्याही को कलम में डालकर दिल्ली के शिक्षकों ने शिक्षा के क्षेत्र में नया इतिहास लिख दिया।

उन्होंने प्रदेश में जारी महिला हिंसा एवं बलात्कार की घटनाओं को लेकर प्रदेश सरकार की ओर से जारी मिशन शक्ति अभियान पर सवाल उठाया। कहा, सरकार बताए कि महिला हिंसा की घटनाओं से जुड़े मामलों की सुनवाई के लिए क्या व्यवस्था की गई है। ऐसे मुकदमों के समय से निस्तारण के लिए प्रदेश में फास्ट ट्रैक कोर्ट बनाए जाने चाहिए।

सरकार अगर ऐसा नहीं कर सकती तो फिर इस दिखावे के अभियान को बंद कर देना चाहिए। उन्होंने योगी सरकार की ओर से प्रदेश के शिक्षकों को दूसरे राज्य में प्रशिक्षण के लिए भेजने की योजना का जिक्र करते हुए कहा कि अगर सरकार उन्हें दिल्ली भेजे तो आम आदमी पार्टी निशुल्क प्रशिक्षण कराने की व्यवस्था करेगी।

Related Stories

The News Agency
www.thenewsagency.in