कोरोना काल के बाद फुटवियर कंपोनेंट की राष्ट्रीय प्रदर्शनी में फिर गुलजार दिखा जूता उद्योग

कोरोना काल के बाद फुटवियर कंपोनेंट की राष्ट्रीय प्रदर्शनी में फिर गुलजार दिखा जूता उद्योग

आगरा, अप्रैल 6 (TNA) चीन के वर्तमान बाजार के हालातों में भारत के पास खुद को आगे लाने का एक अच्छा अवसर है। फुटवियर कंपोनेंट सेक्टर इसमें एक बड़ी भूमिका रखता है आगरा के होटल मधु रिसोर्ट्स में इफ्कोमा एमएसएमएई मंत्रालय भारत सरकार, एफमेक, सीएलई के सहयोग से आयोजित ‘शू टेक आगरा’ के 52वें संस्करण के उद्‌घाटन सत्र में मुख्य अतिथि के रूप में आये काउंसिल फॉर लेदर एक्सपोर्ट्स (सीएलई) के चेयरमैन संजय लीखा ने अपने सम्बोधन यह बात कही उन्होंने कहा कि कोरोना के चलते भारत का जूता निर्यात 35 प्रतिशत कम हुआ है।

हमारा लक्ष्य चालू वित्तीय वर्ष में 20 प्रतिशत की ग्रोथ का है। इस दिशा में पीएलआई स्कीम गेम चेंजर साबित हो सकती है। वहीं उन्होंने कहा कि आगरा महज ताजमहल के लिए ही नहीं बल्कि जूता उत्पादन के लिए भी विश्व पटल पर चमकता है। इससे पूर्व ‘शू टेक आगरा’ मेले का फीता काटकर उद्‌घाटन सीएलई के चेयरमैन संजय लीखा, इफ्कोमा के अध्यक्ष संजय गुप्ता, सीएलई के रीजनल चेयरमैन मोतीलाल सेठी और एफएएफएम के अध्यक्ष कुलदीप सिंह कोहली ने संयुक्त रूप से किया।

इफ्कोमा के अध्यक्ष संजय गुप्ता ने आयोजन पर विस्तार से प्रकाश डाला वहीं तेज ग्रुप के सीएमडी सरदार दलजीत सिंह ने कालांतर में फुटवियर कम्पोनेंट्स सेक्टर में आये परिवर्तनों पर बात करते हुए जूता उद्योग के प्रोत्साहन के लिए सरकार से इसके लिए अलग मिनिस्ट्री बनाये जाने की मांग रखी। अंत में इफ्कोमा के महासचिव दीपक मनचंदा ने आये सभी अतिथियों का धन्यवाद ज्ञापन किया।

इस मौके पर मुख्य रूप से रहे मौजूद एफमेक कन्वीनर कैप्टन एएस राणा, उपाध्यक्ष गोपाल गुप्ता, राजेश सहगल, महासचिव राजीव वासन, सीफटीआई के निदेशक सनातन साहू, इफ्कोमा के कार्यकारी निदेशक एसके वर्मा, पूर्व अध्यक्ष प्रदीप अग्रवाल, विकास राठी, एमएसएमई के सहायक निदेशक डा. मुकेश शर्मा, चंद्र शेखर पीटीआई, सीसीएलए के अजय शर्मा, ब्रजेश शर्मा, सीएलई के आरके शुक्ला आदि विशेष रूप से मौजूद रहे।

Related Stories

No stories found.