पुलिस आयुक्त वाराणसी के निर्देश पर NEET सॉल्वर गैंग के 9 अभियुक्तों के विरुद्ध यू०पी० गैंगस्टर एक्ट की कार्यवाही

पुलिस आयुक्त वाराणसी के निर्देश पर NEET सॉल्वर गैंग के 9 अभियुक्तों के विरुद्ध यू०पी० गैंगस्टर एक्ट की कार्यवाही

वाराणसी, मार्च 26 (TNA) 12-09-2021 को आयोजित NEET परीक्षा में क्राइम ब्रांच वाराणसी एवं थाना सारनाथ की संयुक्त पुलिस टीम द्वारा सॉल्वर सहित अन्य अभियुक्तगणों को गिरफ्तार कर थाना सारनाथ में अभियोग पंजीकृत कराया गया था। अभियोग की विवेचना के दौरान प्रकाश में आए गैंग के सरगना एवं अन्य सक्रिय सदस्यों डॉक्टर ओसामा शाहिद, नीलेश उर्फ पीके, विकास कुमार महतो, कन्हैया लाल सिंह, क्रांति कौशल, ओमप्रकाश सिंह, राजू कुमार, डॉक्टर अफरोज एवं मुंतजिर समेत अन्य अभियुक्तगणों को गिरफ्तार किया गया।

गिरफ्तार अभियुक्तगणों का एक गैंग है जो कि त्रिपुरा, बिहार, उत्तर प्रदेश, राजस्थान दिल्ली तक फैला है इस अंतरराज्यीय गैंग के सदस्य एमबीबीएस में एडमिशन हेतु आयोजित प्रवेश परीक्षा में असली अभ्यर्थियों के स्थान पर सॉल्वरों को बिठाकर परीक्षा पास कराते हैं एवम बदले में उनके अभिभावकों से 40 से 50 लाख रुपए की धनराशि वसूलते हैं।

उपरोक्त सॉल्वर गैंग के सक्रिय सदस्यों पर प्रभावी कार्यवाही करने हेतु दिनांक 25-03-2022 को पुलिस आयुक्त वाराणसी के अनुमोदन के उपरांत थानाध्यक्ष सारनाथ द्वारा मु०अ०सं० 109/22 धारा 3(1) उत्तर प्रदेश गिरोह बंद एवम समाज विरोधी क्रियाकलाप निवारण अधिनियम का अभियोग पंजीकृत कराया गया है। गैंगस्टर एक्ट के अंतर्गत जिला कारागार में निरूद्ध जिन अपराधियों के विरुद्ध कार्यवाही की गई है वो हैं ओशामा शाहिद, नीलेश कुमार, विकास कुमार महतो, कन्हैया लाल सिंह, क्रांति कौशल, ओम प्रकाश सिंह, राजू कुमार, डॉ अफ़रोज़ और मुन्तजिर।

NEET सॉल्वर गैंग के उपरोक्त सभी सदस्य जिला कारागार वाराणसी में न्यायिक अभिरक्षा में निरुद्ध हैं। अभियुक्त गणों को गैंगस्टर एक्ट के अंतर्गत पंजीकृत मुकदमे में रिमांड पर लिया जाएगा। अभियुक्तगणों की चल अचल संपत्तियों का विवरण एकत्र किया जा रहा है शीघ्र ही इनकी अवैध रूप से अर्जित परसंपत्तियों को गैंगस्टर एक्ट के अंतर्गत सीज किया जाएगा।

Related Stories

No stories found.
The News Agency
www.thenewsagency.in