यूपी में खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र में 55 हजार करोड़ के निवेश प्रस्ताव को जमीन पर उतारने को हो रहा काम

यूपी में खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र में 55 हजार करोड़ के निवेश प्रस्ताव को जमीन पर उतारने को हो रहा काम

लखनऊ, जुलाई 4 (TNA) गोरखपुर, बाराबंकी, बरेली, वाराणसी और सहारनपुर जैसे शहरों में 15 कृषि और खाद्य प्रसंस्करण पार्कों की हो रही स्थापना से उत्तर प्रदेश में किसानों की आय में उल्लेखनीय वृद्धि के साथ ही रोजगार के अवसर भी खुलेंगे हैं। औद्योगिक विकास मंत्री नंद गोपाल नंदी ने बताया कि उत्तर प्रदेश खाद्य प्रसंस्करण उद्योग नीति के तहत सरकार की ओर से दिए जा रहे सब्सिडी और सुविधाओं से इस क्षेत्र में तेजी से निवेश हो रहा है।

उन्होंने बताया कि यूपी ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट-2023 में खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र में 81,309 करोड़ रुपये के 1,483 निवेश प्रस्ताव आए। इन प्रस्तावों से तकरीबन तीन लाख रोजगार सृजित होने की संभावना है। राज्य सरकार के लगातार प्रयासों के चलते फिलहाल 55,815 करोड़ रुपये के 980 निवेश प्रस्ताव को जमीन उतारने की दिशा में तेजी से काम हो रहा है। इन परियोजनाओं से दो लाख से अधिक रोजगार के अवसर खुलने की उम्मीद है।

उन्होंने बताया कि इस क्षेत्र में सबसे अधिक निवेश प्रस्ताव (432) औद्योगिक रूप से पिछड़े क्षेत्र पूर्वांचल के लिए आए। वहीं पश्चिमी क्षेत्र को 316 निवेश प्रस्ताव प्राप्त हुए। मध्यांचल (मध्य क्षेत्र) को 172 प्रस्ताव और बुंदेलखंड को इस क्षेत्र में 60 निवेश प्रस्ताव मिले। यूपी में खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र में इकाइयां स्थापित करने वाले कुछ प्रमुख उद्यमों में बेजले फूड, भारतीयम बेवरेजेस, बीकानेरवाला फूड्स, बालाजी वेफर्स, सहस्त्रबाहु फूड प्रोडक्ट्स, फॉर्च्यून राइस और उदगम लॉजिस्टिक्स शामिल हैं।

logo
The News Agency
www.thenewsagency.in