मैनपुरी में जानलेवा बुखार से तहसील के बाबू सहित चार की मौत, अस्पतालों में दो सौ से अधिक मरीज

मैनपुरी में जानलेवा बुखार से तहसील के बाबू सहित चार की मौत, अस्पतालों में दो सौ से अधिक मरीज

मैनपुरी || शहर में बुखार से लगातार मरीजों की मौत हो रही है। भोगांव तहसील में तैनात बाबू सहित चार मरीजों की बुखार से मौत हो गई। वहीं शनिवार को जिले भर के अलग-अलग क्षेत्रों में 200 से अधिक बुखार के मरीज भर्ती कराए गए।

शहर के मोहल्ला अवाबाग कॉलोनी निवासी 35 वर्षीय विशाल वर्मा भोगांव तहसील में बाबू के पद पर कार्यरत थे। उन्हें पिछले कुछ दिनों से बुखार आ रहा था। परिजन उनका दिल्ली में उपचार करा रहे थे। उपचार के दौरान शुक्रवार की रात विशाल वर्मा की मौत हो गई।

शहर के मोहल्ला वंशीगोहरा शिशुमंदिर स्कूल के पास निवास करने वाले सुरेश यादव की 27 वर्षीय पुत्रवधू संगीता पत्नी राजीव यादव को पिछले कुछ दिनों से बुखार आ रहा था। परिजन उसका आगरा में उपचार करा रहे थे। दो दिन पहले उसकी आगरा में उपचार के दौरान मौत हो गई। परिजनों के अनुसार उसमें डेंगू के लक्षण मिले थे। मोहल्ले के लोग चिंतित हैं कि डेंगू की रोकथाम के लिए दवा आदि का छिड़काव कराया जाए।

नगर पालिका के गांव धारऊ निवासी 80 वर्षीय फूलमती देवी पत्नी होतीलाल को पिछले कुछ दिनों से बुखार आ रहा था। शनिवार को परिजनों ने उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराय। यहां उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई। किशनी थाना क्षेत्र के गांव जासमई निवासी 65 वर्षीय कल्लू को पिछले 10 दिनों से बुखार आ रहा था।

परिजन उसका एक निजी डॉक्टर से उपचार करा रहे थे। शनिवार को हालत बिगड़ने पर परिजन उसे लेकर जिला अस्पताल पहुंचे यहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

Related Stories

No stories found.