मैनपुरी में दहेज हत्या के आरोपी की जेल में मौत, परिजनों ने लगाया इलाज में लापरवाही का आरोप
Vernacular

मैनपुरी में दहेज हत्या के आरोपी की जेल में मौत, परिजनों ने लगाया इलाज में लापरवाही का आरोप

जेल प्रशासन द्वारा इलाज में लापरवाही बरतने का आरोप लगाते हुए मृतक के परिजनों ने नाराजगी जताई है ।

TNA Contributor

TNA Contributor

मैनपुरी ।। तीन माह से दहेज हत्या के आरोप में जिला कारागार मैनपुरी में बंद कैदी की जेल में मौत हो गई है । मौत के बाद परिवार में कोहराम मच गया है ।पुलिस ने मृतक के शव को पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है । जेल प्रशासन द्वारा इलाज में लापरवाही बरतने का आरोप लगाते हुए मृतक के परिजनों ने नाराजगी जताई है ।

पूरी घटना कोतवाली क्षेत्र के राधारमण रोड स्थित मोहल्ला हंसनगर निवासी जसवीर सिंह (४२) पुत्र अमरपाल सिंह शाक्य उम्र करीब 42 वर्ष अपने छोटे भाई मुनेन्द्र सिंह की पत्नी रश्मी शाक्य ने आत्महत्या कर ली थी ।

जिसमें परिवारीजनों के खिलाफ दहेज हत्या में मुकदमा दर्ज था । इसमें मुनेन्द्र सिंह के साथ माँ सावित्री देवी जेट जसवीर सिंह जिला कारागार मैनपुरी में बंद है । बताया गया है कि जसवीर सिंह 21 मई 2020 से अपनी मां सावित्री देवी भाई मुनेंद्र सिंह के साथ जेल में सजा भुगत रहे हैं ।

जसवीर सिंह को ब्लड कैंसर की शिकायत थी जिसका उपचार चल रहा था । जेल प्रशासन से अच्छे उपचार के लिए कई बार मांग की गई थी । लेकिन जेल प्रशासन ने मात्र खानापूर्ति करते हुए इलाज कराया मंगलवार की सुबह 4:00 बजे परिजनों को सूचना दी गई कि जसवीर की हालत खराब है । उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया है ।जसवीर के ससुरालीजन जिला अस्पताल पहुंचे तब तक जसवीर की मौत हो चुकी थी ।

जसवीर के ससुर थाना किशनी क्षेत्र के ग्राम झबरा निवासी रक्षपाल सिंह जो सेवानिवृत्त दरोगा है । उन्होंने जेल प्रशासन पर आरोप लगाया है कि जेल प्रशासन ने उनके दामाद का सही से उपचार नहीं कराया । नाहीं उन्हें उपचार कराने की मोहलत दी गई ।

जिसके चलते उसके दामाद की मौत हो गई है । जसवीर की पत्नी ममता 9 वर्षीय पुत्री प्रियंका, अंशिका, दिव्यांशी तथा अन्य परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है । पुलिस ने मृतक के शव को पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है । जेल प्रशासन के खिलाफ परिजनों का भारी गुस्सा देखने को मिला है ।

The News Agency
www.thenewsagency.in