नीब करोली बाबा की अनंत कथाएँ : जब महाराज जी दिखे भगवान श्री राम के रूप मे

नीब करोली बाबा की अनंत कथाएँ : जब महाराज जी दिखे भगवान श्री राम के रूप मे

देवीदत जोशी, प्रधानाचार्य, बाबा के दर्शनार्थ हेतु हनुमानगढ़ जाया करते थे । एक दिन प्रात: काल जब वे मन्दिर की सीढ़ियों से उपर जा रहे थे । बाबा उन सीढ़ियों से नीचे उतर रहे थे ।आप की दृष्टि ज्यूँ ही बाबा पर पड़ी आप चकरा गये ।आपको बाबा नहीं साक्षात धनुर्धारी राम दिखाई दिये । कुछ ही देर में ये दृश्य बदल गया और बाबा मुस्कुराते हुए दिखे ।

इस घटना से आप अत्याधिक प्रभावित हुए और चिल्ला चिल्ला कर कहने लगे, "मुझे सब पता चल गया है, आप सच में राम है । अब मैं सब को बताऊँगा।" बाबा आपको चुप रहने का संकेत करके रहे । पर आप तो चिल्लाते रहे, मैं सब को बताऊँगा ।

आप में ऐसा विरक्ति और मस्ती छा गयी की आप को विक्षिप्त समझा दाने लगा और मानसिक अस्पताल में भेज दिया गया । ऐसे अलौकिक दर्शनों से आपकी आन्तरिक स्थिति अंत तक आनंदपूर्वक रही ।

जय गुरूदेव

आलौकिक यथार्थ

Related Stories

The News Agency
www.thenewsagency.in