नीब करोली बाबा की अनंत कथाएँ : पैदल गंगा पार किया

नीब करोली बाबा की अनंत कथाएँ : पैदल गंगा पार किया

महाराजजी बनारस में थे । उनके साथ उनका एक भक्त पुलिस अधीक्षक भी था । दोनों लोग एक साधु के दर्शन को गए थे जो एक टापू पर रहता था । जब उस टापू तक जाने की बात आई तो पुलिस अधीक्षक ने नाव करने की बात की । बाबा बोले ," हम पैदल ही चलेंगे टापू तक ।"

"गंगा जी का पानी हमारे सर से बहुत उपर है, हम डूब जाएँगे महाराज जी ।" पुलिस अधीक्षक ने विस्मय से कहा । बाबा ने ज़िद्द की "नहीं, हम पैदल चल कर जाएँगे। "

वह पुलिस अधीक्षक तैरना नहीं जानता था इसलिये वे डर रहा था कि पानी में कैसे चला जायेगा ।

बाबा बोले," तू अपना हाथ हमारे कंधे पर रख ले ।" उसने ऐसा ही किया और बाबा उसको साथ गंगा पार कर के टापू पर पहुँच गये । भक्त बाबा की लीला पर हैरान कि कैसे गंगा माँ ने बाबा को अपनी गोद में ले लिया ।

जय गुरूदेव

रहस्यदर्शी

श्री नीब करौरी बाबा

No stories found.
The News Agency
www.thenewsagency.in