नीब करोली बाबा की अनंत कथाएँ : परीक्षा ले रहा है!

नीब करोली बाबा की अनंत कथाएँ : परीक्षा ले रहा है!

फ़िरोज़ाबाद के राधे श्याम को महाराज बहुत प्यार करते थे । बाबा कभी क भी उनके घर ठहरते और भोजन करते, एक दिन बाबा उनके घर बैठे थे । बन्द कमरे में बाहर किसी ने दस्तक दी । यह सब जानते हुए कि बाबा सब जानते है, उनसे पूछ बैठे," बाबा ये व्यक्ति कौन होगा ?" बाबा मुस्कुराते हुए बोले," परीक्षा ले रहा है ?"

फिर बोले,"बादशाह वक़ील का भाई है । सोलन में नौकरी करता है । इसकी स्त्री को टीबी है । यह रात को उसके सिरहाने बैठ कर रोता है ।" दरवाज़ा खुलने पर जो व्यक्ति भीतर आया उसने अपना वही परिचय बाबा को दिया और अपनी पर कृपा करने की याचना करने लगा ।

बाबा तो हर मन में क्या चलता है, तुम क्या सोचते हो, सब जानते है पल पल की ख़बर है बाबा को।

जय गुरूदेव

आलौकिक यथार्थ

No stories found.
The News Agency
www.thenewsagency.in