नीब करौरी बाबा: गुरू तुम्हारे बारे में सब कुछ जानता है

नीब करौरी बाबा: गुरू तुम्हारे बारे में सब कुछ जानता है

हमारी बड़ी बेटी ने सरकारी नौकरी के लिये पेपर दिये । मगर वे परेशान थी, संतुष्ट नहीं थी, अपनी परीक्षा से । परीक्षा देने के बाद हम सब महाराजजी के दर्शन करने वृन्दावन चले गये । सबने उन्हें प्रणाम किया !

तभी वे मेरी बड़ी बेटी को देख कर बोल पड़े, "तुम्हारे परीक्षा के पाँच पेपर ख़राब हुए हैं।" वे उदास स्वर में बोली, "जी, महाराज जी! सही नहीं हुए।" महाराज जी बोल पड़े,"चिन्ता मत करो, तुम्हें सफलता मिलेगी और अच्छी नौकरी भी मिलेगी।"

और बाबा के कहे वचन सत्य भी हुए। महाराज जी यही कहते थे कि तुम्हारा गुरू, तुम्हारे बारे में सब कुछ जानता है।

जय गुरूदेव

मिरेकल आफ लव

No stories found.
The News Agency
www.thenewsagency.in