नीब करोली बाबा की अनंत कथाएँ : हर किसी में भगवान है

नीब करोली बाबा की अनंत कथाएँ : हर किसी में भगवान है

कई बार, कई भक्तों की भगवान के प्रति जिज्ञासा को बाबा शान्त करते थे । पत्थर की शिला पर बैठे, पहाड़ों की तरफ़ देखते हुए बाबा भक्तों से बोलते,"उन पेड़ों को देखो जो पहाड़ों के उपर खड़े है, उन्हें कौन पानी देता है ? उनकी रक्षा, देखभाल कौन करता है ? ये सब तथ्य हमें बताते है कि भगवान है, अपने भक्तों के लिये भगवान हैं। जो उन पर विश्वास करते हैं। उनकी देखभाल भगवान स्वंय करते हैं।

महाराज कई तरह से भक्तों को भगवान के क़रीब लाते थे । वे कभी गीला मिट्टी पर बैठ जाते और कहते ये मेरी मातृभूमि है और मैं उसकी गोद मे बैठा हूँ । हम इस मिट्टी से बने है और उसमें ही विलीन हो जाना है । हर तरह की धरती, ज़मीन हमारा भगवान है । हर वस्तु में ईश्वर को देखो ।

जय गुरूदेव

मिरेकल आफ लव

Related Stories

The News Agency
www.thenewsagency.in