नीब करोली बाबा की अनंत कथाएँ: कैंची आश्रम में बाबा का वो 'ऑफ़िस' वाला कमरा
Sourced From Social Media

नीब करोली बाबा की अनंत कथाएँ: कैंची आश्रम में बाबा का वो 'ऑफ़िस' वाला कमरा

कैंची आश्रम में साधारण छोटा सा कमरा था जिसमें बाबा होते थे और उसे अपना आफ़िस कहते थे । कमरे मे ही खिड़की थी जो अन्दर की तरफ खूलती थी जिसे बाबा खोल कर वहाँ बैठ कर बाहर की तरफ़ मूँह करके भक्तों को दर्शन देते थे ।

बाबा कभी कभी उस कमरे में ख़ूब उछलते थे बन्दर की तरह , जैसे बन्दर पिंजरों में बन्द होता है और खिड़की के सलाखों पर ज़ोर ज़ोर से टक्कर मार कर दबाव डालते थे । और कभी जब कोईँ उनके दर्शन करने खिड़की पर आता तो वे दरवाज़ा बन्द कर देते । लीला धारी की लीला कोई नहीं जान सकता ।

जय गुरूदेव

No stories found.
The News Agency
www.thenewsagency.in