नीब करोली बाबा की अनंत कथाएँ : भक्तों का ध्यान रखते है बाबा

नीब करोली बाबा की अनंत कथाएँ : भक्तों का ध्यान रखते है बाबा

महाराज जी अपने हर भक्त का ध्यान कई तरीक़ों से रखते थे । कुछ भी उनकी दृष्टि से छिपा नहीं था । एक दिन एक भक्त कैंची आश्रम बाबा के दर्शन को जा रहा था । तभी सड़क के किनारे एक पकौड़े वाले के पास रूक कर वे पकौड़े खाने लगा । इन दिनों वे बहुत पकौड़े खा रहा था । कुछ समय पश्चात वे कैंची आश्रम पहुँचा ।

बाबा के पास पहुँचते ही सबसे पहले बाबा ने उससे कहा," क्या तुम पकौड़े खाते हो? तुम इस तरह की चीज़ें बहुत समय से खाते हो, तुम ये क्यूँ खाते हो ?" तुम अपने पेट को ख़राब कर रहे हो ।"

वो भक्त घबरा गया । और सोचने लगा बाबा ये सब कैसे जानते है । पर उस दिन से उसने ये सब खाना छोड़ दिया ।बाबा की नज़र हर पल अपने भक्तों पर रहती । हर अच्छे बूरे का ध्यान रहता था उनको ।

जय गुरूदेव

मिरेकल आफ लव

Related Stories

The News Agency
www.thenewsagency.in