कानपुर बालिका बालगृह में हुए अमानवीय कृत्य पर आप ने किया प्रदर्शन

लखनऊ ।। कानपुर राजकीय बालगृह की नाबालिग लड़कियों के साथ हुए अमानवीय कृत्य की जांच हाइकोर्ट की निगरानी में गठित SIT द्वारा कराने तथा दोषियों के विरुद्ध कार्यवाई की मांग को लेकर आम आदमी पार्टी के प्रदेशव्यापी प्रदर्शन के क्रम में मंगलवार को आप लखनऊ द्वारा गांधी प्रतिमा जी पी ओ हज़रतगंज पर प्रदर्शन कर राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन जिला प्रशासन को सौंपा।

धरने को संबोधित करते हुए प्रदेश सचिव रुचि यादव ने कहा कि कानपुर राजकीय बालगृह की 7 बालिकाएं गर्भवती पाई गई हैं और एक बच्ची को एड्स भी है। ये अधिकारियों की लापरवाही और सत्ता की मिलीभगत के कारण हुआ है। बच्चियों को संरक्षित और सुरक्षित रखने के लिए स्थापित किये गए बालगृह वर्तमान समय मे अनाथ, बेसहारा और मजबूर बच्चियों की इज़्ज़त के खिलवाड़ का अड्डा बन चुके हैं।

जिला संगठन उपाध्यक्ष अंजू सिंह ने कहा कि बालगृह की 57 लड़कियां कोरोना पॉजिटिव भी मिली हैं, सरकार जवाब दे कि जब बालिकाएं बालगृह के अंदर थी तो संक्रमित कैसे हुईं। लगता है कि कानपुर में मुज़फ्फरपुर बालिका गृह कांड दुहराया गया है। सुभाषिनी मिश्रा ने कहा कि पूरे मामले की न्यायिक जांच हाइकोर्ट की निगरानी में गठित SIT के द्वारा की जाए। इस घटना के दोषियो को कठोर दंड दिया जाए ताकि ऐसे घिनौने कृत्य की पुनरावृत्ति रोकी जा सके।

जसमीत कौर ने कहा कि पीड़िताओं के बेहतर इलाज की व्यवस्था की जाए तथा उनके भविष्य को सुरक्षित एवं संरक्षित किया जाए तथा बालिकाओं और महिलाओं की सुरक्षा, स्वास्थ्य व बेहतर भविष्य के लिये प्रभावी आदेश दिए जाएं।

प्रदर्शन में प्रदेश सचिव अनुज पाठक, छात्र विंग के अध्यक्ष वंशराज दुबे, सचिव रही जमाल, अंजलि पाठक, किश्वर जहां,प्रीतपाल सिंह, साजन जॉन, अफरोज आलम,माजिद अली,सयैद मोहम्मद तक़ी,कृपा निधान,महेश कनौजिया, पंकज यादव, शुभम मौर्या, अब्दुल्ला,रिष्यन्त कटियार,उमेश मौर्या, तरुण मिश्रा,हरिशंकर,शिवम सिंह सहित कई सदस्य उपस्तिथ रहे।

Related posts

Leave a Reply

*